बॉलीवुड की 10 ऐसी फिल्में जिन्हें आप अपने परिवार के साथ नहीं देख पाएँगे

B.A Pass movie

बॉलीवुड अब तक कितनी फ़िल्में बन चुकी है इसकी गिनती करने बेठे तो सुबह से शाम हो जाएँ. लेकिन हर साल कुछ ऐसी फ़िल्में बनती है जिन्होंने आप बिना किसी संकोच के अपने परिवार के साथ देख सकतें है. लेकिन बॉलीवुड में कुछ ऐसी फ़िल्में भी बनी है जिन्हें आप देखना तो जरुर पसंद करेंगे लेकिन अकेले है. लेकिन कई बार सेंसर बोर्ड कई बार ज्यादा बोल्ड सीन्स को कट कर देते है या ऐसी फिल्मों को बैन कर देता है. लेकिन सेंसर बोर्ड के द्वारा इन फिल्मों से कई सीन्स को कट करने के बाद भी इन फिल्मों को सिर्फ अकेले में ही देखा जा सकता है. तो आइये जानते है कुछ ऐसी ही फिल्मों के बारें में जिन्हें आप अकेले ही देखना पसंद करेंगे.

कामसूत्र:

इस फिल्म नाम ही अपने आप में सब कुछ बता देता है. मीरा नायर के निर्देशन में बनी इस फिल्म ने सारी हद पार कर दी थी. सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म में से कई सीन्स भी हटाये थे. लेकिन इसके बाद भी आप इस फिल्म को अपने परिवार के साथ नहीं देखा सकतें है.

B.A Pass:

साल 2012 में आई इस फिल्म में शिल्पा शुक्ला ने अहम भूमिका निभाई थी हालांकि इस फिल्म में एक शादी शुदा और एक कॉलेज़ में पढ़ने वाले छात्र के बीच अश्लील संबंध को दिखाया गया है. फिल्म में कुछ सीन्स इतने बोल्ड है की आप इन सीन्स को अपने परिवार के साथ नहीं देख पाएँगे.

वॉटर:

साल 2005 में आई इस फिल्म को दीपा मेहता ने डायरेक्ट किया था. हालांकि इस फिल्म ने काफी नाम भी कमाया था, इस फिल्म में ख्रिचन पुजारी के महिला से संबंध पर आधारीत इस फिल्म का विरोध पुरे ख्रिचन समाज़ ने किया था. इसी कारण सेंसोर बोर्ड ने इस फिल्म पर बैन लगा दिया.

मतुर्भूमि:

साल 2003 में आई इस फिल्म का निर्देशन मनीष झा द्वारा किया था. इस फिल्म की कहानी कुछ यूँ है की एक ही महिला से पांच भाइयों की शादी करवा दी जाती है और यह इसलिए किया जाता है क्योंकि कन्या भ्रूण हत्या के कारण शादी के महिलायाएँ पुरुष की तुलना में बहुत कम होती है. फिल्म की कहानी अच्छी है अगर इसको समझा जाये तो आप इस फिल्म को जरुर देख सकतें है लेकिन अकेले में.

फायर:

दीपा मेहता के निर्देशन में बनी इस फिल्म ने मनो जैसे फायर ही लगा दी थी. फिल्म की कहानी लेसबीन जीवन पर आधारित है, जिसमे दो बहनों के बीच संबंध दिखाए गये थे और उन दो बहनों का किरदार निभाने वाली एक्ट्रेस नंदिता दास और शबाना आज़मी है. फिल्म में बोल्ड सीन्स होने और लेसबीन की कहानी की वजह से सेंसोर बोर्ड ने इस फिल्म को बैन किया था.

गैंग्स ऑफ़ वासेपुर:

अनुराग कश्यप के निर्देशन में बनी यह फिल्म लोगो को तो काफी पसंद आई. इस फिल्म में दमदार डायलॉग और मज़ेदार कहानी होने की वजह से इस फिल्म को लोगों के लोगों के बीच तक पहुचाया. वैसे इस फिल्म ज्यादा बोल्ड सीन्स नहीं है लेकिन अपनी ख़राब भाषा के कारण यह फिल्म आप अपने परिवार के साथ नहीं देख पाएँगे लेकिन हम शर्त लगा सकतें यह फिल्म आपको पसंद जरुर आएगी.

गांडू:

फिल्म का नाम ही आप अपने परिवार के सामने नहीं ले पाएँगे, इसे देखने की बात बहुत दूर है. कौशिक मुख़र्जी की ये बंगाली फिल्म रैप म्युझिक पर आधारित है. ख़राब दृश्य की वजह से ये फिल्म विवाद के चपेट में आगयी. इस फिल्म युवाओ को ड्रग्स लेते हुए दिखाया गया है. लेकिन सेंसर बोर्ड की केंची इस फिल्म चल ही गयी थी.

जिस्म-2:

जिस फिल्म को एडल्ट सर्टिफिकेट मिल गया हो. आप उसे अपने परिवार के साथ देखने की हिम्मत शायद ही कर पाएं. सन्नी लिओन ने इस फिल्म में काफी बोल्ड सीन्स दिए है. इस फिल्म में लव, ड्रामा और फाइट का कॉम्बिनेशन देखने को मिलेगा है वैसे अगर आप सन्नी के फैन है तो आप इस मूवी देख सकतें है लेकिन अकेले में.

अनफ्रिडम:

यह फिल्म राज अमित कुमार द्वारा डायरेक्ट की गयी थी. यह फिल्म लेसबीन के जीवन पर आधारीत थी, जिसमे इस्लाम आतंकवाद को दिखाया गया हैं. इसी वजह से इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने बैन भी कर दिया था.

अलोन:

जब फिल्म का नाम ही अलोन है तो आप कैसे इसे किसी और के साथ देख सकतें है. कारण सिंह ग्रोवर एयर बिपाशा बासु स्टारर इस फिल्म में दोनों बोल्डनेस की साडी हदे पर कर दी थी. बिपाशा बासु और करण की ये फ़िल्म एक हॉरर मूवी है. इस फिल्म को आप अपने परिवार के साथ ना ही देखे तो अच्छा होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here