शिक्षकों के स्वास्थ्य के लिए अब सरकार ने बनाई कैशलेस योजना

शिक्षकों के लिए कैशलेस परिवार स्वास्थ्य योजना शुरू करने के लिए शिक्षक भारती की मांग पर शिक्षा मंत्री विनोद तावडे ने अंततः विधान परिषद में सहमती दी और उन्होंने कहा कि योजना मार्च से शुरू होगी.education ministerशिक्षा मंत्री विनोद तावडे विधायक श्रीकांत देशपांडे, दत्तात्रय सावंत और कपिल पाटील की टिप्पणी का जवाब दे रहे थे जबाब में, शिक्षा मंत्री ने बीमा योजना का उल्लेख किया था. बीमा योजना शिक्षकों के खिलाफ है उन्हें पुलिस के मुताबिक कैशलेस जैसे योजना हो इस बातपर जोर देकर कहा कि कपिल पाटिल को शिक्षकों के लिए कैशलेस स्वास्थ्य योजना शुरू करनी चाहिए, तो शिक्षा मंत्री ने यह योजना शुरू हो जाएगी.

शिक्षक भारती के अध्यक्ष अशोक बेलसरे ने दो साल पहले ही शिक्षकों के लिये पुलिस जसे कैशलेस सुविधा चिकित्सा कार्ड योजना को पेश किया था. शिक्षक भारती ने इस योजना को सावित्रीबाई फुले और फातिमा शेख के नाम से शुरू करने की मांग की हे कुछ अन्य संगठनों ने मेडिक्लेम बीमा योजना की माँग की थी हालांकि, सरकार ने आखिरकार शिक्षक भारती की योजना को मंजूरी दी है. इसलिए विधायक कपिल पाटिल और शिक्षक भारती के अध्यक्ष अशोक बेलसरे, जिला अध्यक्ष अशोक नारायण वाघ, आर जे पाटील, दीपक आर्डे सहमति के लिए योजना बना रही है, विजय सोनवणे, दिलीप तेली, युवराज पाटिल, प्रवीण पाटिल, संजय कौल ने शिक्षा मंत्री को धन्यवाद दिया.

तीन साल की प्रतीक्षा 1अप्रैल 2018 को खत्म होगी माननीय कपिल पाटिल को विधायक विनोद तावडे ने विधान परिषदमें आश्वासन दिया उम्मीद कि तावडे साहब अप्रैल फूल ना बनाये कैशलेस मेडिक्लेम का रास्ता कॉलेज-शिक्षक कर्मचारीयों मुक्त हो जाएंगे. नकद रहित योजना राज्य में सावित्रीबाई फुले-फातिमा शेख के नाम पर लागू की जाएगी शिक्षक भारती द्वारा तैयार की गई योजना के अनुसार शिक्षकों और गैर-शिक्षक कर्मचारियों को बिना एक रुपया खर्च किये इलाज किया जा सकता है और नामि अस्पताल में आप और आपके परिवार का इलाज कर सकते हैं.तावड़े साहब मूल योजना को बदलने के तुरंत बाद इस योजना को लागू कर सकते हैं ऐसी उम्मीद की जा रहीं है.

[स्रोत- धनवंत मस्तूद]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here