बड़े-छोटे उद्योगपति से मिले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और निवेश करने के लिया दिया न्योता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को मुम्बई में अलग-अलग उद्योगपति से मुलाकात की और यूपी में निवेश करने का न्योता दिया। उत्तर प्रदेश सरकार अगले साल 21 और 22 फरवरी को लखनऊ में इन्वेस्टर्स समिट-2018’ का आयोजन कर रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 22 दिसम्बर, मुम्बई के नरीमन प्वाइण्ट स्थित होटल ट्रायडेण्ट में रोड शो किया था इस रोड शो में मुंबई के दिग्गज उद्योगपति और मुम्बई के कई नेता शामिल थे। युवाओं को बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार विशेष अभियान चला रही है।yogi.आज UP से मुम्बई में रोजगार के लिये बहुत युवा आते है। कोई आपने रिश्तेदार के यहां रहता है तो कोई रूम करके रहता है। अपने परिवार को छोड़ के ये आते है। लेकिन अगर यही रोजगार उन्हे यूपी में मिलेगा तो उनको अच्छा महसुस होगा। आज तक यू पी कोई भी मुख्यमंत्री निवेश का न्योता लेकर मुम्बई नाही आया था। यह करिश्मा योगी आदित्यनाथ ने किया।

प्रदेश सरकार ने आगरा में 20 करोड़ रुपये की लागत से टेस्टिंग लैब तथा डिजायनिंग इंस्टीट्यूट बनाने का निर्णय लिया गया है। आगरा और कानपूर जैसे शहर में चर्म के उद्योग को बढ़ावा देने से यहा एक फेशन मार्केट बन जायेगा। फॅशन के जूते के लिये कानपूर पूरे भारत में मशहुर है। यहा के पर्यटन और सांस्क्रुतिक कला को भी बढ़ावा दिया जायेगा।

इसमें प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि हमारे काम और नीतियों के नाते उत्तर प्रदेश के प्रति लोगो का नजरिया बदला है। निवेशकों की सुरक्षा और सम्मान की गारंटी सरकार देगी। औद्योगिक विकास आयुक्त अनूप चंद्र पांडेय ने कहा कि प्रवासी निवेशकों की जो भी दिक्कतें हैं
रिलायन्स के मुकेश अंबानी, रतन टाटा, टाटा ग्रुप, महेन्द्रा एण्ड महेन्द्रा, सुभाष चंद्रा, अशोक हिन्दुजा, दीपक पारेख, शेखर बजाज, अरविन्द लालभाई, सुधीर मेहता, मधुसूदन अग्रवाल, मेहुल चोकसी आदि शामिल हैं।

यूपीडीएफ के अध्यक्ष ओम प्रकाश तिवारी ने कहा की पिछले पच्चीस सालों में पहली बार मुंबई में यह महसूस हो रहा है कि यूपी में उद्योग के लिए माहौल बना है। बदले माहौल की महक यहां महसूस की जा रही है। महासचिव सीए पंकज जायसवाल ने कहा कि पहली बार कोई मुख्यमंत्री सामने से आकर लोगों से निवेश के लिए संवाद कर रहें है।

[स्रोत- बालू राऊत]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here