दिनेश कार्तिक की सफलता के पीछे कोच रवि शास्त्री और कप्तान कोहली का हाथ

भारतीय क्रिकेट टीम के मध्यम क्रम के बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पुणे के मैदान में शानदार अर्धशतक जमाकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई. जिसकी बदौलत भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड की टीम को 24 गेंद शेष रहते हुए 6 विकेट से हराया. इस मैच में दिनेश कार्तिक ने शानदार बल्लेबाजी का नजारा पेश किया और उन्होंने 92 गेंदों का सामना करते हुए 64 रनों की पारी खेली.Dinesh Kartikन्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 230 रन बनाए थे भारत को जीत के लिए 231 रनों का लक्ष्य दिया था. 24 गेंद शेष रहते हुए भारत ने इस मैच को 6 विकेट से जीता जिसमें सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 68 और चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए दिनेश कार्तिक ने 64 रनों का योगदान दिया जिससे भारतीय टीम की जीत आसान हो गई अंत में हार्दिक पांड्या और महेंद्र सिंह धोनी ने काम को अंजाम दिया.

कार्तिक ने कहा मेरी सफलता के पीछे कोच और कप्तान का हाथ

पुणे के मैदान में शतक लगाने के बाद बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने अपनी सफलता के पीछे कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली का हाथ बताया उन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाजी के पीछे का श्रेय कोच और कप्तान को दिया. दिनेश कार्तिक ने कहा मुझे इस पारी के बाद काफी आत्मविश्वास मिला है मैंने लगभग 7 साल के बाद भारत की जमीन पर अर्धशतक जमाया इस समय मैं बहुत अच्छा महसूस कर रहा हूँ इस अर्धशतक की मुझे कितनी खुशी हो रही है मैं बता नहीं सकता.

नंबर 4 की बल्लेबाजी के लिए 11 वें बल्लेबाज बने दिनेश कार्तिक

वर्ल्ड कप 2015 के बाद से भारतीय टीम में चौथे नंबर की बल्लेबाजी क्रम को अभी तक कोई भी बल्लेबाज भर नहीं पाया था. यह एक चिंता का विषय बना हुआ था भारतीय चयनकर्ताओं के लिए किन्तु इस मैच में अर्धशतक लगाकर दिनेश कार्तिक ने काफी हद तक चयनकर्ताओं की इस चिंता को दूर करने की कोशिश की.

दिनेश कार्तिक ने कहा “मैं इस मैच में नाबाद रहा इससे मेरा आत्मविश्वास काफी बढ़ा हुआ है और मुझे लगता है मेरी फॉर्म अब वापस आ गई है मैं आने वाले मैचों में और बेहतर प्रदर्शन करुंगा और टीम में एक नियमित जगह बना लूंगा”.

दिनेश कार्तिक ने भारतीय पारी के दौरान शिखर धवन और हार्दिक पांडे के साथ अर्धशतकीय साझेदारी भी निभाई. जो अंत में भारतीय टीम की जीत का मंत्र बनी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here