सीकर में तीन दिवसीय युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास प्रशिक्षण का हुआ समापन

23 दिसंबर 2017 को राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक मुकेश कुमार सैनी ने बताया कि नेहरू युवा केन्द्र सीकर के तत्वावधान में नेहरू युवा संस्थान सीकर द्वारा क्वालिटी औद्योगिक प्रशिक्षण केन्द्र सीकर में आयोजित युवा नेतृत्व एवं सामुदायिक विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम का गुरुवार को शुभारंभ किया गया जिसका वार शनिवार को समापन हुआ। Nehru yuva kendra seekarनेहरू युवा संस्थान सचिव बी.एल.मील ने बताया कि उद्धघाटन सत्र में जिला रोजगार अधिकारी एवं सहायक श्रम आयुक्त चैनसिंह शेखवात ने कहा कि युवाओं को नेतृत्व के गुणों का विकास करके टीम भावना के साथ कार्य करने की आवश्यकता है। महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि युवा राष्ट्र की रीढ़ है वह अपनी शक्ति को सकारात्मक दिशा में लगाए उन्होंने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की जानकारी दी।

जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक आर.के. बगड़िया ने युवाओं के स्टार्ट अप शुरू करने के लिए सरकार की योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि युवा अपनी मेहनत से नए आयाम स्थापित कर सकते है।
जिला युवा समन्वयक तरुण जोशी ने प्रशिक्षण के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए युवा गतिविधियों की जानकारी तथा युवाओ को राष्ट्र निर्माण में अपनी भूमिका निभाने का आह्वान किया। Nehru yuva kendra seekar नेहरू युवा संस्थान के सचिव बी.एल.मील एवं एडवोकेट रफ़ीक़ गौड़ ने कहा युवा अपनी सोच में सकारात्मक परिवर्तन लाकर संगठन की भावना के साथ कार्य करे। क्वालिटी आई.टी.आई. के प्रधानाचार्य जयनारायण फुलवरिया ने युवाओ को कौशल की ओर अग्रसर होने को कहा तथा प्यारेलाल नागा, ताराचंद सैनी, मुकेश धायल ने कौशल प्रशिक्षण का महत्व बताया इस दौरान एन.वाई.वी. मुकेश सैनी, मनोज भामू, बिशन गुर्जर, विक्रम गुर्जर, एवं युवा मंडलो के सदस्य मौजूद रहे।

राष्टीय युवा स्वयंसेवक मुकेश कुमार सैनी ने बताया कि युवा मण्डल कैसे अपने गांव और देश के लिए कैसे काम कर सकते है। नेहरू युवा केन्द्र संस्थान सचिव बी.एल.मील ने बताया कि तीन दिवसीय इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में अनेक युवा मंडलो के चालीस युवाओ ने प्रशिक्षण प्राप्त किया तथा तीन दिवसीय गतिविधियों की जानकारी दी।

नेहरू युवा केन्द्र समन्वयक तरुण जोशी ने युवा मंडलो के द्वारा किये जा सकने वाले कार्य एवं युवा नेतृत्व की जानकारी दी तथा सभी का आभार प्रकट किया। इस दौरान तीन दिवसीय प्रशिक्षण में मनोज भामू ने तीन दिन में सुबह से शाम तक होने वाली गतिविधियों की जानकारी दी।

[स्रोत- धर्मी चंद]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here