चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी ने 14,333 वोटों से जीत दर्ज की

विधायक प्रेम सिंह के निधन के बाद खाली हुई इस सीट पर 9 नवंबर को मतदान हुआ और इस मतदान में करीब 65 फ़ीसदी लोगों ने अपना वोट दिया वोट डालने में सबसे ज्यादा महिलाओं का योगदान रहा पुरुषों के मुकाबले इस बार महिलाओं ने ज्यादा मतदान किया. इस सीट के लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही एड़ी चोटी का जोर लगा रहे थे मगर बाजी कांग्रेस के उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी ने मार ली है.chitrkoot chunav

कांग्रेस के उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी 14000 वोटों से भाजपा को करारी मात देकर विजयध्वज लहराया चुके हैं. इस सीट पर मैदान में कुल 12 उम्मीदवार थे. नीलांशु चतुर्वेदी की जीत पर पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्विटर हैंडल से नीलांशु चतुर्वेदी और कांग्रेस को इस जीत पर बधाइयां दी तथा जनता का आभार भी प्रकट किया.

भाजपा ने सीट पर जीत दर्ज करने के लिए शंकर दयाल त्रिपाठी को मैदान में उतारा था मगर भाजपा का यह दाव काम नहीं आया और जनता ने अपना रुख कहीं और मोड़ लिया. लोगों का कहना है कि भाजपा की करारी शिकस्त केवल नोटबंदी और जीएसटी जैसे फैसले ही हैं. कुछ लोगों का कहना है कि नोटबंदी और जीएसटी का फायदा केवल बड़े लोगों को लगा है. नोटबंदी के दौरान जिन पर काला धन था उन सब ने अपना काला धन सफेद कर लिया है और जनता को परेशानी उठानी पड़ रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here