दहिहांडा मे धूमधाम से निकाला गया संदल का जुलूस

दहिहांडा यहा गाव सभी धर्म एकता का प्रतिक माना जाता हैं. दहिहांडा गाव में हर जाती – धर्म – मजहब के नागरीक एकता व भाई चारे के साथ एक दुसरे के त्योहारो मे तन – मन – धन से हिस्सा लेकर मनाते हैं. इसी दौरान 30 नवंबर 2017 को सैय्यद दाऊद रहेमतुल्हा अलैह इन का संदल निकाला गया.

sandal procession

दहिहांडा गाव में स्थित प्राचिन इतिहास में से सैय्यद दाऊद रहेमतुल्हा अलैह ईन की दर्गाह है और बहोत हि शक्ती शाली है. सैय्यद दाऊद बाबा ने समाज में एकता का व भाईचारे का संदेश दिया करते थे.

इसी बात को ध्यान में रखते हुए 30 नवंबर 2017 को शाम 6 बजे से 10 बजे के दौरान दहिहांडा गाव मे से सैय्यद दाऊद बाबा के संदल का जुलुस दहिहांडा गाव के मुख्य मार्गो से निकाला गया. संदल के जुलूस में सभी जाती धर्म के नागरीक उपस्थित थे.

और संल के जुलुस मे शांती व सुव्यवस्था बनाय रखने के लिये दहिहांडा पोलिस स्टेशन के पोलिस बंदोबस्त किया गया था पोलि स बंदोबस्त में दहिहांडा पोलिस स्टेशन के थाणेदार गणेश वनारे साहेब, उप निरीक्षक अमोल गोरे साहेब, ए एस आय पदमाकर पतोंड साहेब व पोलिस कर्मचारी उपस्थित थे.

संदल दहिहांडा गाव के मुख्य मार्गो से निकालने के बाद वापस सैय्यद दाऊद बाबा की दर्गाहा पर पहुचाया गया. व दर्गाह पर संदल चढाने के बाद पुरे दुनिया में सुख शांती, अमन, चैन की दुआ मांगी गई.

[स्रोत- शब्बीर खान]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here