प्याज किसानों को आर्थिक प्रोत्साहन देने की शुरुआत।

खेती, किसानों, प्याज, phirbhi

प्याज की खेती करने के लिए पैसा भी मिलेगा और बीच में छूट भी दी जाएगी:

प्याज की खेती करने वाले किसानों के साथ इस तरह के मामले ज्यादा सामने आते हैं भविष्य में ऐसी ही स्थिति से निपटने के लिए हरियाणा सरकार की तरफ से प्याज भंडारण का भविष्य में हो या कोई चेंबर पर 50% तक अनुदान देने का फैसला किया गया ।

हरियाणा सरकार प्याज की खेती को बढ़ावा देने के लिए जुट गई है।

इसके द्वारा प्याज किसानों को आर्थिक प्रोत्साहन देने की शुरुआत की गई है खेती करने के लिए पैसा भी मिलेगा और बीज में छूट भी दी जाएगी, खेती करने के लिए 2 किस्मों की खरीद पर ₹500 की छूट भी दी जाएगी किसान भाई इसी योजना के दिए गए लाभ को प्राप्त करने के लिए दी गई हिदायत को पूरा कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। एक किसान छूट पर अधिकतम 8 किलो बीज ले सकता है, मतलब उसे ₹4000 तक का फायदा मिलेगा| यहां खेती करने वाला किसान 1 सीजन में 44000 तक की मदद ले सकता है| AAFDIR किस्म केप्याज के बीज का दाम ₹1950 प्रति किलो है, जबकि ₹500 तक की बीमा छूट के साथ या 1450/- की रेट पर मिलेगा। जबकि भीमा सुपर किस्म का भी यही रेट है,बीज बिक्री केंद्र करनाल, हिसार के साथ नुहु से भी इसे लिया जा सकता है। बिक्री केंद्र में फोटो सहित पहचान पत्र और ‘मेरी फसल मेरा ब्योरा’ पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की कॉपी देनी होगी।

किसान भाई बहन इस संबंध में अपने जिला बागवानी अधिकारी से भी संपर्क कर सकते हैं,वही प्याज की खेती करने के लिए सरकार हर किसान को ₹40000 तक की मदद देगी एकीकृत बागवानीविकास मिशन के तहत खरीफ सीजन में प्याज की खेती के लिए ₹8000 प्रति एकड़ मिलेंगे और यह मदद अधिकतम 5 एकड़ तक की जा सकती है। शतो को पूरा कर। सब्सिडी प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना पहचान पत्र प्रमाण पत्र जैसे- आधार कार्ड की फोटो कॉपी साथ लाना होगा ,उन्होंने कहा कि यह सब्सिडी ‘पहले आओ पहले पाओ’ के आधार पर दी जाएगी और सब्सिडी राशि की उपलब्धता तक लागू रहेगी|

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.