सही समय पर खुलती नजर आयी रेलवे कर्मचारियों की आंख

कुछ महीनों पहले तक की बात करें तो रेल दुर्घटनाओं से हर किसी का ह्रदय भयावह हो गया था और जिसके चलते सुरेश प्रभु ने भी  अब पद से इस्तीफा दे दिया था जिसके बाद रेलवे मंत्रालय की कमान पीयूष गोयल को दी गई. ऐसा नहीं कि पीयूष गोयल के रेल मंत्री बन जाने के बाद कोई रेल दुर्घटना नहीं हुई मगर आज जौनपुर-गाजीपुर मार्ग पर गेटमैन की सतर्कता से एक बड़ा रेल हादसा होने से बच गया.Damage Railway track.जौनपुर से गाजीपुर रेलवे मार्ग पर पटरी टूटी हुई थी और ट्रेन भी आने वाली थी वहां पर मौजूद गेटमैन को जब इस बात की जानकारी  मिल तो  उसने ही किया  जो हमें अब तक किताबों में पढ़ाया आता जा रहा है उसे देर ना करते हुए रेलवे ट्रैक पर लाल झंडी लगा दी. रेलवे ट्रैक पर लगी लाल झंडी को देख  ट्रेन ड्राइवर ने भी सतर्कतापूर्वक अपना कार्य किया और ट्रेन को टूटी हुई पटरी से पहले रोक दिया.
https://twitter.com/ANINewsUP/status/923124454334521345


इस प्रकार रेलवे कर्मचारियों की सूझबूझ और सतर्कता की वजह से एक गंभीर हादसा होने से बच गया यह कहना गलत नहीं कि अब रेलवे कर्मचारियों की आंख सही समय पर खुलने लगी हैं वरना कुछ समय पहले के ट्रेन हादसों को देखकर लग रहा था कि रेलवे कर्मचारी अपनी ड्यूटी को ईमानदारी से नहीं निभा रहे हैं.

वहां पर मौजूद लोगों ने और ट्रेन यात्रियों ने भी गेटमैन की जमकर तारीफ की और उनकी सूझबूझ की काफी सराहना की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here