तारानगर में किसानों की मांगों को लेकर, अखिल भारतीय किसान सभा का धरना शुरू

तारानगर में तहसील कार्यलय के सामने किसानों की मांगो को लेकर अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में क्षेत्र के किसानों का धरना आज शुरू हो गया। अखिल भारतीय किसान सभा के सदस्यों ने प्रशासन को चेतावनी देने हुए कहा की मांगे पूरी नहीं होने तक धरना प्रदर्शन जारी रहेगा. साथ ही श्रीमान उपखंड अधिकारी, तारानगर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन भी दिया जिसमें निम्न मांगो को प्रशासन के सामने रखा.akhil bharti kisan sabha ka dhanrna pradarshan in taranagar

  1. खरीफ़ 2016 का फसल बीमा क्लेम और रबी 2016-17 का फसल बीमा क्लेम किसानों को तुरंत दिया जाये। गौरतलब है कि फसल बीमा क्लेम की वाज़िब मांग को लेकर क्षेत्र के किसान पिछले 1 वर्ष से लगातार आंदोलनरत है।

2. मूंग का खरीद केंद्र तारानगर तहसील केंद्र पर खोला जाये0।

3. चौधरी कुम्भा राम आर्य लिफ्ट कैनाल का 28 अक्टूबर 2015 के तत्कालीन सरकार के निर्णय के अनुसार घटाया गया रकबा वापस जोड़ा जाये तथा नहर का निर्माण शुरू किया जाये।

4. माइनरों पर डिग्गी निर्माण का अधूरा पड़ा कार्य तुरंत शुरू किया जाये तथा रुका हुआ बजट अविलम्ब जारी किया जाये।

5. बुवाई के समय पर सिंचाई हेतु नहर में अतिरिक्त पानी दिया जाये।

6. वर्ष 2014 से लेकर अब तक बुवाई रकबे से अतिरिक्त लिया गया प्रीमियम किसानों को बीमा कंपनियों से तुरंत दिलवाया जाये।

7. राशन वितरण में की गई कटौती वापस ली जाये तथा सभी को समय पर पूरा राशन दिया जाये।

8. तहसील के प्रत्येक पटवार हल्का पर पटवारी की नियुक्ति की जाये।

9. विद्युत बिलों में गड़बड़ियों को स्थायी रूप से दुरस्त किया जाये तथा ऑडिट के नाम पर उपभोक्ता की लूट बंद की जाये।

10. वर्ष 2014-15 का सात्युं मौसम केन्द्र के किसानों का बकाया फसल बीमा क्लेम PNB दूधवाखारा बैंक, SBI शाखा तारानगर व ICICI लोम्बार्ड बीमा कंपनी से तुरंत दिलवाया जाये।

11. SBI बैंक(तत्कालीन SBBJ) द्वारा किसानों से वसूला गया अतिरिक्त ब्याज तुरंत प्रभाव से किसानों के खाते में वापस जमा किया जाये।

12. तारानगर से जयपुर जाने वाली रोडवेज बसों को यथावत चलाया जाये।

13. तारानगर तहसील को रेल सेवा से जोड़ा जाये

इस अवसर पर आयोजित सभा को प्रदेश कमेटी सदस्य निर्मल कुमार एडवोकेट, जिला मंत्री उमरावसिंह, तहसील अध्यक्ष चिमनाराम पांडर, रामजीलाल कुलड़िया, भोजराज महला, मनफूल सिंह कस्वां, गोपीराम शर्मा, ताराचंद कस्वां, जितेंद्र सिंह राठौड़ एडवोकेट, रामेश्वर सहारण, आदराम कस्वां आदि ने सम्बोधित किया।

सभा का संचालन पूर्णाराम सरवाग ने किया। धरना स्थल पर सभा के बाद SDM इंद्राज सिंह काजला व तहसीलदार दिनेश शर्मा के साथ प्रतिनिधि मंडल की वार्ता हुई जिसमें माँगो के निस्तारण नही होने के कारण धरना अनिश्चित कालीन शुरू कर दिया गया और 16 नवम्बर को तहसील कार्यालय का घेराव करने का निर्णय लिया गया।

[स्रोत- विनोद रुलानिया]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here