गरजा प्रशासन का महाबली गिराये गये कुछ अवैध कब्जे

हरदोई- बेहंदर कलाँ ग्राम पंचायत की पशुचर की भूमि पर बने भवनो में से कुछ भवनो को कल तहसील प्रशासन के अधिकारियो ने दोपहर बाद गिरा दिया। बताते चले की फिर भी न्यूज पर लगातार दो दिन सिलसिलेवार न्यूज प्रकाशित होने के बाद अधिकारियो की नीद खुली और तहसील के अधिकारियो ने अपनी टीम और जेसीबी लेकर पशुचर की भूमि पर बने अवैध भवनो को दोपहर करीब 2 बजकर 45 मिनट से गिराना शूरु कर दिया जो शाम करीब पाँच बजे के बाद तक चलता रहा।

गरजा प्रशासन का महाबली गिराये गये कुछ अवैध कब्जे

एसडीएम अशीष कुमार सिंह ने बताया की ममाले की जाँच चल रही है जो लोग भी दोषी होगे उन पर कार्यवाही की जायेगी। इस दौरान नायब तहसीलदार, एक दर्जन लेखपाल व भारी मात्रा में कासिमपुर पुलिस बल मौजूद रहा। एसडीएम आशीष कुमार सिंह ने कहा जो भी प्रधान ने जमीन की बिक्री की है उन पर एंटी भूमाफिया के तहत कार्यवाही की जायेगी।

[ये भी पढ़ें: पशुचर की जमीन का निरीक्षण करने पहुँचे, गौरक्षक सुधाकर सिंह अपनी टीम के साथ]

और जो भी अतिक्रमण में बने घर रह गये है उनको नोटिस देकर खाली करा कर पशुचर की जमीन खाली कराई जायेगी। इस दौरान पुलिस ने भीड़ को लाठी पटक कर भाग दिया और गिर रहे मकानो के बगल वाले मकानो को खाली कराने में पुलिस को कुछ समस्या जरूर आयी।

गरजा प्रशासन का महाबली गिराये गये कुछ अवैध कब्जे

उधर गरजे महाबली इधर बहे आसुओ की धारा-

बताते चले कि जिन लोगो के घरो को जेसीबी से गिराया जा रहा था तो उन लोगो का रो रो कर बुरा हाल था। तो वही पर अपने माता पिता को रोता देख बच्चो का भी रो रो कर बुरा हाल था। रो रो कर अपना हाल बताने वाले बता रहे थे कि उनको नही मालूम थी ये जमीन पशुचर (चरागाह) की है नही तो वो निर्माण नही करते। उनका कहना था कि अब इस सर्द भरे मौसम में अपनी बीवी बच्चो को लेकर कहा जायेगे।

[स्रोत- लवकुश सिंह]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here