ICC ने क्रिकेट में किये बड़े बदलाब, अब बल्लेबाज नहीं होगा रन आउट

अगर आप क्रिकेट मैं दिलचस्पी रखते हैं तो आपके लिए एक बड़ी खबर है ICC ने क्रिकेट में कुछ बड़े बदलाव किए हैं ये बदलाव 28 सितंबर से लागू होंगे इसके बाद से जो भी सीरीज खेली जाएगी वह सीरीज इन नए नियमों के आधार पर खेली जाएगी. आपकी जानकारी के लिए बता दें आईसीसी ने 26 सितंबर को अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके जानकारी दी जिसमें कहा क्रिकेट में कुछ अहम बदलाव किए हैं जो 28 सितंबर से प्रभावी रहेंगे.Run OutICC ने ये भी कहा जो सीरीज अभी पहले से खेली जा रही हैं जैसे भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच व इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच इन सीरीजों पर इन बदलाव का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा ये सीरीज पहले की तरह खेली जाएगी. किन्तु 28 सितंबर 2017 के बाद जो भी सीरीज खेली जाएगी उसमें नए नियम लागू किए जाएंगे.

आइए आपको बताते हैं ICC ने क्रिकेट में क्या बड़े बदलाव किए हैं-

1- आजकल क्रिकेट इतना ज्यादा हो रहा है जिसकी बजह से खिलाड़ियों में आपस में नका चकी हो जाती है, कभी-कभी दोनों टीमों के खिलाड़ी आपस में भिड़ जाते हैं. किसी बात को लेकर नोक-झोक हो जाती है या विपक्षी टीम के खिलाड़ी दूसरी टीम के खिलाड़ियों के साथ बुरा व्यवहार-बर्ताव करने लगते हैं अगर ऐसे में अंपायर को लगा कि खिलाड़ी सब को परेशान कर रहा है तो अंपायर उस खिलाडी को पूरे मैच के लिए सस्पेंड कर सकता है.

2- अक्सर देखा जाता है बल्लेबाज अपनी मर्जी से बल्ले लेकर आते हैं किन्तु आईसीसी के नए नियमों के मुताबिक बल्लेबाज अपनी मर्जी से बल्ले नहीं ला सकते. अब बल्ले के किनारों की चौड़ाई 40 मिमी से ज्यादा नहीं हो सकती जबकि बल्ले की गहराई 67 मिमी तक रहेगी जिसे नापने के लिए अंपायर के पास मशीनें उपलब्ध होंगी.

[ये भी पढ़ें: उम्र में है छोटा किन्तु पृथ्वी शॉ कर सकता है सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड की बराबरी]

3- आपने देखा होगा रन लेते समय या बल्लेबाज को स्टंप करते समय उसका पैर या बल्ला हवा में रहता था चाहे वह क्रीज के अंदर हो तो भी उसे आउट करार दिया जाता था, किन्तु अब ऐसा नहीं होगा रन लेते हुए बल्ला और स्टंपिंग होते हुए बल्लेबाज का पैर अगर क्रीज के अंदर है भले ही वह हवा में है तो इस स्थिति में बल्लेबाज को आउट नहीं दिया जाएगा.

4- ICC के नए नियमों के अनुसार अब डीआरएस T20 क्रिकेट में भी लिया जा सकता है इससे पहले T20 क्रिकेट में डीआरएस नहीं लिया जाता था.

[ये भी पढ़ें: क्या आपको पता है ऑस्ट्रेलिया के सीरीज हारने में है कप्तान स्टीव स्मिथ का हाथ]

5- टेस्ट क्रिकेट में 80 ओवर पूरे होने के बाद टीम को रिव्यु लेने के ज्यादा मौके मिलते थे किंतु अब ऐसा नहीं होगा किसी भी टीम को एक पारी में 2 से ज्यादा रिव्यू नहीं मिलेंगे.

6- अगर बल्लेबाज के बल्ले से गेंद लगी और किसी खिलाड़ी से या विकेटकीपर के हेलमेट से टकराकर विकेट पर जा लगी या किसी फील्डर ने कैच ले लिया तो इस स्थिति में भी बल्लेबाज आउट माना जाएगा.

ये सब बदलाव 28 सितंबर 2017 से प्रभावी होंगे किन्तु जो सीरीज पहले से खेली जा रही है उन सीरीज पर इन फैसलों का कोई फर्क नहीं पड़ेगा वह पहले के नियमों के आधार पर पूरी की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here