जानिए स्वास्थ्य के लिए कितनी घातक है कटी प्याज

मानो या ना मानो यह पूर्णतया सत्य है कि प्याज हमेशा ताजा काटकर ही खाने के काम में लेना चाहिये यह हमारे स्वास्थ्य के लिये जरूरी है. कुछ समय पहले कटे हुए प्याज कभी भी न खाएं क्योंकि काट कर रखे हुए प्याज दस मिनिट में अपने आस पास के सारे कीटाणु अवशोषित कर लेती है । यह वैज्ञानिक तौर पर सिद्ध हो चुका है । जब भी किसी मौसमी बिमारी का प्रकोप फैले तो घर में सुबह शाम हर कमरे में प्याज काट कर रख दें और बाद में उसे बाहर फैंक दें । यकीं मानिए आप बिमारी से सुरक्षित रहेंगे ।onion

सन् 1919 में फ्लू से चार करोड़ लोग मारे जा चुके थे तब एक डाॅक्टर कई किसानों से उनके घर इस प्रत्याशा में मिला कि वो कैसे इन किसानों को इस महामारी से लड़ने में सहायता कर सकता है । बहुत सारे किसान इस फ्लू से ग्रसित थे और उनमें से बहुत से मारे जा चुके थे । डाॅक्टर जब इनमें से एक किसान के संपर्क में आया तो उसे ये जान कर बहुत आश्चर्य हुआ, जब उसे ये ज्ञात हुआ कि सारे गाँव के फ्लू से ग्रसित होने के बावजूद ये किसान परिवार बिलकुल स्वस्थ था.

तब डाॅक्टर को ये जानने की इच्छा हुई कि ऐसा इस किसान परिवार ने सारे गाँव से हटकर क्या किया कि वो इस महामारी में भी स्वस्थ थे । तब किसान की पत्नी ने उन्हें बताया कि उसने अपने मकान के दोनों कमरों में एक प्लेट में बिना छिली प्याज रख दी थी । तब डाॅक्टर ने प्लेट में रखी इन प्याज को माइक्रोस्कोप से देखा तो उसे इस प्याज में उस घातक फ्लू के बैक्टिरिया मिले जो संभवतया इन प्याज द्वारा अवशोषित कर लिए गए थे, और शायद यही कारण था कि इतनी बड़ी महामारी में ये परिवार बिलकुल स्वस्थ था क्योंकि फ्लू के वायरस इन प्याज द्वारा सोख लिये गए थे ।

[ये भी पढ़ें : स्वाद ही नहीं सेहत के लिए भी लाभदायक है पाइनएप्पल]

एक बात और जब किसी व्यक्ति को न्युमोनिया होता है तो वो अपने आपको बहुत कमजोर महसूस करता है । उसके बारे में भी मैंने एक जानकारी पढ़ी थी, उसमें लिखा हुआ था कि प्याज को बीच से काटकर रात में न्यूमोनिया से ग्रस्त मरीज के कमरे में एक जार में रख दिया गया जाए तो सुबह तक प्याज उन कीटाणुओं से भर जाएगा जिनसे वह व्यक्ति बीमार है, मतलब प्याज उन कीटाणुओं को अपनी ओर खींच लेने में सक्षम है ।

हम हाॅटलों, ढ़ाबों पर या किसी शादी या पार्टीयों में जाते हैं तो जाहिर है कि सलाद तो होगा ही और इतने बड़े प्रोग्राम में सारी तैयारियां पहले से ही करके रखनी पड़ेंगी और उस तैयारियों में हम भी खाने के साथ साथ प्याज भी खा लेते हैं फिर बाद में हम दोष पूरे खाने को देते हैं लेकिन ऐसा होता नहीं है आपका पेट खराब करने में अकेला प्याज ही काफी है, तो अगली बार इन बातों को ध्यान में रखें कि वो प्याज बिल्कुल नहीं खाएं जो बहुत देर पहले काटी गई हो ओर प्लेट में रखी गई हो. अब ये आपको पता है कि काटकर रखी गई प्याज बहुत विषाक्त होती है ।

कटे हुए प्याज कहीं भी किसी भी स्थिति में हो, वो हर स्थिति और हर जगह रखी प्याज आपके स्वास्थ्य के लिये बहुत अधिक घातक है । चाहे थेली में डालकर फ्रीज में ही क्यूंन रखी हो । प्याज बैक्टिरिया को अवशोषित कर लेता है यही कारण है कि अपने इस गुण के कारण प्याज हमें ठण्ड और फ्लू से बचाता है ।

[ये भी पढ़ें : लाल प्याज़ के सेवन से इन बीमारियों का खतरा होता है जड़ से खत्म]

जब भी किसी को फूड पोईजनिंग होती है तो सबसे पहले इस बात का पता लगाया जाता है कि मरीज ने अंतिम बार प्याज कब खाया था, और वो कहां से मंगवाया था खास कर सलाद का ध्यान रखा जाता है कि कहीं आपने सलाद में कटे प्याज तो नहीं खा लिये । कटा हुआ कच्चा प्याज बैक्टिरिया के लिये चुम्ंबक का काम करता है ।

प्याज थोड़ा सा भी काट देने पर ये बैक्टिरिया से ग्रसित हो सकता है और आपके लिए खतरनाक. यदि आप कटे हुए प्याज की सब्जी बनाने के लिये उपयोग कर रहे हों तब तो ठीक है मगर यदि आप कटे हुए प्याज अपनी ब्रेड पर रख कर खा रहे हैं तो ये बेहद खतरनाक हो सकता है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here