1 घंटा 45 मिनट की स्पीच में एक घंटा का गरीबों के लिए: MJ अकबर

वित्त मंत्री अरुण जेटली की स्पीच सुनने के बाद केंद्रीय मंत्री एम.जे अकबर ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 1 घंटा 45 मिनट की स्पीच में एक घंटा गरीबों के लिए था यह वास्तव में एक ऐतिहासिक है मुझे लगता है कि विपक्ष के हाथ निराशा के अलावा और कुछ नहीं लगा होगा.वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा जारी किए गए आम बजट को ऐतिहासिक बताते हुए केंद्रीय मंत्री एम जे अकबर ने बजट की तारीफें करते हुए विपक्ष पर निशाना साधा और कहा कि विपक्ष के हाथ निराशाओं के अलावा और कुछ नहीं लगा होगा. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बजट में किसानों मजदूरों और मध्यम वर्ग के लोगों पर खास ध्यान रखा गया है और अधिकतर समय मध्यमवर्गीय लोगों किसानों मजदूरों पर ही चर्चा की गई है और ज्यादातर उन्हीं योजनाओं की चर्चा की गई है जो ग्रामीण क्षेत्र के लिए बनी है.

बजट को लेकर कहा गया कि आने वाले दिनों में केंद्र ग्रामीण इलाकों में आर्थिक गतिविधि रोजगार इंफ्रास्ट्रक्चर किसानों की आय व्यय ऊर्जा के केंद्र बनेंगे. इतना ही नहीं ग्रामीण इलाकों को उच्च शिक्षा, अस्पताल और ग्रामीण सड़क योजना के तहत विकासशील बनाने पर जोर दिया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बजट की तारीफ करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली को गरीबों का ध्यान रखते हुए बजट बनाने के लिए धन्यवाद व्यक्त किया है. नरेंद्र मोदी ने कहा है कि बजट में छोटे व्यापारियों के मदद की कई योजनाएं है यह बजट गरीब और मध्यम वर्गीय लोगों की समस्याओं को दूर करेगा और यह बजट लोगों को सशक्त करने में कामयाब रहेगा.

इतना ही नहीं बजट में ज्यादा फोकस गरीब और मध्यम वर्गीय लोगों पर दिया गया है साथी किसानों के लिए जो सुविधाएं बजट में बताई जा रही है उससे किसानों की आय पर भी काफी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here