मोटर इंश्योरेंस प्रीमियम में 50 फीसदी की वृद्धि संभव

मोटर इंश्योरेंस प्रीमियम में 50 फीसदी की वृद्धि संभव

सरकार सड़क हादसों में गंभीर रुप से घायल या मौत होने के हालात में इंश्योरेंस कंपनियों के थर्ड पार्टी के उत्तरदायित्व पर लागू सीमा खत्म करने पर राजी हो गई है, इरडा के मुताबिक ज्यादातर श्रेणियों के मोटर वाहन के इंश्योरेंस प्रीमियम में बढ़ोतरी कर सकते हैं, बढ़े प्रीमियर वित्त वर्ष 2017-18 से लागू होंगे अगर आपके पास कार, बाइक या कोई भी वाहन है तो इंश्योरेंस के लिए ज्यादा प्रीमियम का भुगतान करने के लिए तैयार हो जाइए, इरडा यानि भारतीय बीमा नियामक एंव विकास प्राधिकरण ने थर्ड पार्टी इंश्योरेंस प्रीमियम में 50 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी का प्रस्ताव रखा है.

इंश्योरेंस रेगुलेटर इरडा ने कार, मोटरसाइकिल औऱ कमिर्शियल व्हीकल्स के प्रीमियम में 1 अप्रैल से 50 प्रतिशत बढ़ोत्तरी का प्रस्ताव रखा है, हालांकि 100 सीसी तक से कम यानि मारुति ऑल्टो, टाटा नैनो और डैटसन गो के साथ पिकअप वैन्स और मिनी ट्रक्स जैसे वाहनों के लिए थर्ड पार्टी मोटर इंश्योरेंस प्रीमियम में बढ़ोत्तरी का कोई प्रस्ताव नहीं रखा है, जो अभी 2,055 रुपए है, लेकिन मिड सेगमेंट की कारों के साथ बड़ी कारों और एसयूवी यानि 1000 से 1500 इंजन वाली कारों का प्रीमियम करीब 50 प्रतिशत बढ़ाने का प्रस्ताव किया है, वहीं 75सीसी की दोपहिया गाड़ियों के प्रीमियम में बढ़ोतरी का कोई प्रस्ताव नहीं है, स्पोर्ट्स बाइक जो 350 सीसी से अधिक के लिए प्रीमियम बढ़ाकर 1,194 रुपए करने की बात कही गई है, जो अभी 796 रुपए है, यह 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी होगी.

कॉमर्शियल वाहनों का थर्ड पार्टी प्रीमियम को भी इस प्रस्ताव में रखा गया है, इसमें 7.5 टन 12 टन भार वहन क्षमता वाले ट्रकों को अब 23,047 रुपए का थर्ड पार्टी प्रीमियम भरना पड़ सकता है, जो कि अभी 15,365 रुपए है, 12 से 20 टन के ट्रकों का थर्ड पार्टी प्रीमियम 33,865 रुपए हो सकता है, वहीं 20 से 40 टन की क्षमता वालों ट्रकों के लिए 37,062 रुपए हो सकता है.

हम आपको बताते हैं की क्या है थर्ड पार्टी इंश्योरेंस, असल में वाहन से किसी तीसरे पक्ष को पहंचने वाले नुकसान की भरपाई थर्ड पार्टी इंश्योरेंस करता है, बिना थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के कोई भी व्यक्ति सड़क पर वाहन नहीं चला सकता है, जबकि खुद के नुकासन की भरपाई वाला ओन डैमेज इंश्योरेंस इच्छा अनुसार है, दोनों को मिलाकर कंप्रेहेंसिव मोटर बीमा पॉलिसी लेने पर थर्ड पार्टी हिस्से के तौर पर 30 फीसदी राशि देनी पड़ती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here