किसानो की समस्या सुनने नही पहुँचा कोई जनप्रतिनिधि

हरदोई- सण्डीला तहसील परिसर मे चल रहे तीन दिन से भारतीय किसान यूनियन के धरना प्रदर्शन में तीसरे दिन भी कोई जन प्रतिनिधि नही पहुँचा. तहसील परिसर में ही हो रहे ऋणी मोचन प्रमाण पत्र वितरण में आये जनप्रतिनिधियो से आस लगाये किसान यूनियन के कार्यकर्ता उस वक्त मायूस हो गये जब ऋणी माफ़ी योजना के प्रमाण पत्र वितरित हो जाने के बाद जनप्रतिनिधि चले गये.सण्डीला तहसील परिसर मे चल रहे तीन दिन से भारतीय किसान यूनियन के धरना प्रदर्शनबाद में भाजपा महिला मोर्चा की जिला उपाध्यक्ष सुनीता राठौर धरना स्थल पर पहुँची और किसानो के साथ धरने पर भी बैठी किसान यूनियन सण्डीला को जिला बनाये जाने और मीरनगर अजिगांवा में करोड़ की भूमि पर अवैध कब्जा और भरावन ब्लाक के तेरवा गांव में और लूलामऊ में सड़्क आदि के लिये मुख्यमंत्री को सम्बोधित भेजे पत्र में मांग की है जन प्रतिनिधियो के इस रवैये से किसानो मे रोष व्याप्त है धरने में किसान यूनियन के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष अजित सिंह ने बताया की जब तक मांगे नही मानी जाती तब तक धरना प्रदर्शन चलता रहेगा।

[ये भी पढ़ें: मुख्यमंत्री से की बेहंदर ब्लाक क्षेत्र के भ्रष्ट कोटेदार की शिकायत]

वही पर तहसील परिसर में ही ऋणी मोचन प्रमाण पत्र वितरण में किसानो के हितैषी सरकार और किसानो की हर सम्भव मदद और किसानो के कदम से कदम मिला कर चलने की बाते होती रही लेकिन धरना स्थल पर किसी जन प्रतिनिधि के न पहुँचने से किसानो में जन प्रतिनिधियो के खिलाफ़ रोष देखने को मिला।

[ये भी पढ़ें: दबंगो ने किया खेरिया सरकारी स्कूल के खेल मैदान पर कब्जा]

धरना स्थल पर पहुँची सुनीता सिंह ने कहा कि वो किसानो का अनहित नही होने देगी वो किसानो की हर संभव मदद को आगे आयेगी और सरकार तक उनकी बात पहुँचाने में उनके साथ है।

[स्रोत- लवकुश कुमार]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here