आज ही दिन शाहिद अफरीदी ने बनाया था वनडे का सबसे तेज शतक

आज 4 अक्टूबर है और उस दिन भी 4 अक्टूबर ही था, किन्तु आज सन 2017 किन्तु उस दिन सन 1996 था, जब पाकिस्तान के युवा बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने वनडे के इतिहास में सबसे तेज शतक बनाया था. इस पाकिस्तानी बल्लेबाज ने नैरोवी के मैदान में श्रीलंका के खिलाफ जिस तरह से चौके और छक्कों की बरसात की थी उसे देखकर क्रिकेट जगत हिल गया था.Shahid Afridiजब वनडे क्रिकेट शुरू हुआ था तो बल्लेबाज इतना तेज नहीं खेलते थे क्योंकि बल्लेबाजों ने बहुत ज्यादा सीमित ओवर का खेल नहीं खेला था सभी टीमें टेस्ट क्रिकेट खेला करती थी, जैसे-जैसे सीमित ओवर का खेल होने लगा तो बल्लेबाजों ने थोड़ा सा तेज खेलना शुरु किया. जितनी गेंदों का सामना करते थे इतने रन अगर किसी बल्लेबाज ने बना दिए तो समझा जाता था ये बल्लेबाज बहुत तेज खेला.

[ये भी पढ़ें: खुद आशीष नेहरा ने टीम इंडिया में वापसी का खोला राज]

किन्तु इस मैच में शाहिद अफरीदी ने श्रीलंका के खिलाफ वनडे इतिहास में मात्र 37 गेंदों का सामना करने के बाद शतक लगाकर वनडे क्रिकेट के मायने ही बदल कर रख दिए. आईसीसी ने शाहिद अफरीदी के द्वारा बनाए गए 21 साल पहले रिकॉर्ड को ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके याद किया.

नैरोवी के मैदान में श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया पाकिस्तान की ओर से सईद अनवर और सलीम इलाही पारी की शुरुआत करने के लिए आए दोनों ने संभल कर खेलना शुरू किया. पहले विकेट के लिए 60 रन जोड़े सलीम इलाही मात्र 23 रन बनाकर कुमार धर्मसेना की गेंद पर आउट हो गए उन के बाद क्रीज पर आए युवा बल्लेबाज शाहिद अफरीदी उन्होंने क्रीज पर आते ही चौके छक्के लगाने शुरू कर दिए.

[ये भी पढ़ें: सचिन तेंदुलकर जल्दी एक बार फिर मैदान पर चौके छक्के लगाते नजर आएंगे]

शाहिद अफरीदी ने इस मैच में स्पिनरों को अपना टारगेट बनाया, मात्र 37 गेंदों का सामना करने के बाद वनडे क्रिकेट इतिहास का सबसे तेज शतक बना डाला. अफरीदी ने अपनी 102 रन की पारी में 11 छक्के और 6 चौके लगाए, पाकिस्तान ने निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 371 रन बनाए थे.

जवाब में श्रीलंका की पूरी टीम 289 रनों पर ऑलआउट हो गई और इस तरह पाकिस्तान ने मैच को 82 रनों से जीत लिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here