मुंबई के भिवंडी में गिरी C-1 कैटेगरी की 3 मंजिला इमारत, एक लड़की की मौत

मुंबई के भिवंडी इलाके में एक 3 मंजिला इमारत गिर जाने से एक लड़की की मौत हो गई और अन्य कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है हालांकि मलबे से 5 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है मगर इस इस 3 मंजिला इमारत में कुल 14 परिवार रहते थे इसलिए अभी मलबे में और भी लोग दबे होने की आशंका जताई जा रही है.

3-storey building collapses

[Image Source: ANI]

भिवंडी इलाके में स्थित इस रिहायशी बिल्डिंग का नाम काम ताहिर बिजनौरी बताया जा रहा है. यह बिल्डिंग भिवंडी के ज्यादा आबादी वाले क्षेत्र में है जिस कारण राहत एवं बचाव कार्य की किरण वहां पर पहुंचने में असमर्थ हो रही है इसलिए आसपास में रहने वाले लोग तथा फायर ब्रिगेड के जवान ही मलवा हटाकर लोगों को बाहर निकाल रहे हैं.

इस बिल्डिंग में कुल मिलाकर 14 परिवार रहते थे जिनमें से कुल 5 लोगों को अभी बाहर निकाला गया है अभी अन्य लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है बचाव कार्य जोरों से किया जा रहा है मगर भारी मलवा लोगों द्वारा उठाना काफी मशक्कत का काम बन रहा है जिस लड़की की मृत्यु हुई उस लड़की की आयु 18 वर्ष थी.

अप्रैल-मई में म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन ने एक सर्वे कराया था जिस में कुल 617 बिल्डिंगों को इस कैटेगरी में रखा गया था जिसमें यह बिल्डिंग भी शामिल थी. इन 617 बिल्डिंगों में से 112 बिल्डिंगों को खाली कराया जा चुका था मगर हादसे वाली बिल्डिंग में चेतावनी के बावजूद भी अभी तक लोग रह रहे थे.

क्या होती है C-1 कैटेगरी

C-1 कैटेगरी में उन भवन को रखा जाता है जिनकी स्थिति बेहद खराब और जर्जर हो चुकी होती है अगर कोई भवन इस कैटेगरी में आता है तो उस भवन को जल्द ही खाली कर देना चाहिए क्योंकि वह भवन कब किसी अनहोनी का शिकार हो जाए यह किसी को भी मालूम नहीं होता. मुंबई मुंसिपल कॉरपोरेशन एक्ट 1988 के अनुसार हर 30 साल में इमारतों को अपने स्ट्रक्चर रिपोर्ट म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन को भेजना अनिवार्य है.

अप्रैल में ही में किए गए सर्वे के अनुसार म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन ने 617 बिल्डिंगों को C-1 कैटेगरी में रखा था जिसमें यह बिल्डिंग भी शामिल थी चेतावनी के बावजूद भी यह बिल्डिंग खाली नहीं करी गई नतीजन आज बिल्डिंग के गिर जाने से एक लड़की की मौत हो गई और कुछ अन्य लोग मलबे में दबे होने की अभी भी आशंका जताई जा रही है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here