रतन टाटा ने कहा, देश के उज्जवल भविष्य के लिए भारत को है मोदी की जरूरत

टाटा संस के चेयरमैन श्री रतन टाटा ने कहा कि देश के उज्जवल भविष्य के लिए भारत को मोदी की जरूरत है और साथ ही जरूरत है देश के युवाओं के साथ की, जो मोदी जी के साथ कदम से कदम मिलाकर चल सकें. साथ ही रतन टाटा जी ने कहा कि देश की जनता को राजनीतिक सोच से ऊपर उठकर देश के निर्माण के लिए फैसले लेने होंगे और कदम से कदम मिला कर काम करना होगा.RAtan TATA[Image Source: LiveMint]

टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा जी ने सीएनबीसी टीवी18 के साथ एक खास इंटरव्‍यू में कहा कि आज भारत देश को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सख्त जरूरत है. मोदी इंडिया को एक न्यू इंडिया में ढालना चाहते हैं,वही न्यू इंडिया का विजन क्रेटर भी हैं और उसके लिए परिवर्तनात्‍मक कदम भी उठा रहे हैं. ऐसे में जरूरत है कि देश की जनता उनका साथ दे और राजनैतिक विचारधारा से ऊपर उठकर सोचें.

देश के युवाओं के लिए रतन टाटा का महत्वपूर्ण संदेश

टाटा ने देश के युवाओं को एक महत्वपूर्ण संदेश देते हुए कहा कि भले ही लोग चाहे मोदी से सहमत ना हो मगर देश के युवाओं को उनके साथ आना चाहिए और न्यू इंडिया के सपने को पूरा करने में अपना सहयोग देना चाहिए क्योंकि किसी भी देश को बदलने के लिए उस देश के युवा ही उसकी रीड होती हैं और आज इंडिया के युवा ही इंडिया की ताकत है.

नहीं भुला सकता मोदी जी की मदद

टाटा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि जिस प्रकार पश्चिम बंगाल के सिंगूर में ममता बनर्जी की अगुवाई में टाटा की नैनो फैक्ट्री का हिंसात्मक विरोध हुआ और उसके बाद महज 3 दिनों में ही नैनो कार फैक्ट्री के लिए गुजरात जमीन दे दी और फैक्ट्री को पश्चिम बंगाल से गुजरात ले जाने के क्रम में जो उन्होंने हमारी मदद की उसको मैं कभी नहीं भुला सकता और साथ ही कहा कि भारत में सरकारी स्तर पर इस तरह के फैसले नहीं लिए जाते हैं जैसा कि मोदी जी ने फैसला लिया था.

सटीक और तेज फैसला लेने की क्षमता रखते हैं मोदी

जब आप एक बड़े उत्तर पर होते हैं तो आपको बहुत सटीक और जल्दी फैसले लेने पड़ते हैं जो काबिलियत मोदी जी के अंदर है उनके अंदर एक इनोवेटिव आइडिया और क्रिएटिव डिसीजन लेने की क्षमता है और ऐसा वह करते भी हैं, देश के हित के लिए फैसले लेने में देर नहीं लगाते.

घाटे में चल रही कंपनी को खरीदा और आगे बढ़ाया है

टाटा ने कहा कि कंपनी की अधिकांश कमाई परोपकार कार्य में खर्च होती है और ऐसा आगे भी होता रहेगा क्योंकि बिजनेस में उतार-चढ़ाव आते ही रहते हैं और जिस तरह से कंपनी 150 साल पूरे करने जा रही है वह सब नैतिक कार्य की वजह से ही संभव हो पाया है अक्सर देखा गया है कि इतने लंबे समय तक कंपनियां टिक नहीं पाती हैं. हमने पहले भी घाटे में चल रही कंपनियों को खरीदा है और ने आगे बढ़ाया है आगे भी हमेशा करते रहेंगे आने वाले 10 सालों में शायद यह ग्रुप कुछ अलग ही चमकेगा हम हम आगे चलकर नहीं कंपनियां बनाएंगे

टाटा और देश को बहुत सी उम्मीद है मोदी जी से

टाटा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कोई कसर नहीं छोड़ी उन्होंने कहा है कि देश को उनसे काफी उम्मीदें हैं और मोदी जी को उन उम्मीदों पर खरा उतरना होगा. यह बहुत जरूरी है कि देश की जनता को भी राजनीतिक विचारधाराओं से ऊपर उठकर सोचना होगा देश के भविष्य को सोचना होगा और सही फैसलों का साथ भी देना होगा क्योंकि जब आप एक नए राष्ट्र का निर्माण कर रहे होते हैं तो आपको बहुत सारी चीजों को त्यागना भी पड़ता है और बहुत सारी चीजों को ग्रहण भी करना पड़ता है. ऐसे फैसले लेने बहुत कठिन होते हैं मगर ऐसा करना होगा तभी जाकर न्यू इंडिया का निर्माण हो पाएगा, जिसमें युवा वर्ग की बड़ी साझेदारी की जरूरत है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here