उच्च न्यायालय के आदेश की सवायजपुर तहसील प्रशासन उड़ा रहा धज्जियां

हरदोई- सरकार कितने प्रयास करे लेकिन अधिकारी अपने आप को बदलने को तैयार नही है। अधिकारी अपनी काली कमाई के चलते हाईकोर्ट के आदेश की भी धज्जियां उड़ाने से नही चूक रहे है। अधिकारी अपनी काली कमाई के चलते हाईकोर्ट के आदेश उनके ठेंगे पर है ऐसा ही एक मामला सवायजपुर तहसील में देखने को मिली जिला मुख्यालय जिला अधिकारी हरदोई के कलेक्ट्रेट प्रांगण में जनपद सवायजपुर तहसील की ग्राम पंचायत भोरापुर विकासखंड भरखनी तहसील सवायजपुर की सरकारी राशन वितरण की दुकान के चयन के संबंध में ग्रामवासियो ने जोरदार प्रदर्शन करते हुए अपनी माँगो समस्याओं का एक प्रार्थना पत्र नगर मजिस्ट्रेट वंदिता श्रीवास्तव को सौंपा जिसमें ग्रामीणों ने बताया की ग्राम पंचायत के पूर्व कोटेदार फकीरेलाल की मृत्यु के होने के बाद नई दुकान का चयन खुली बैठक में होना था।

 Sawayajpur tehsil administration of high court order

परंतु बिना नियमावली के ही पूर्व के अधिकारियों द्वारा राशन की दुकान का चयन विधिक प्रक्रिया का पालन किए बगैर ही ग्राम पंचायत के उपेंद्र कुमार के नाम कर दिया। जिसके खिलाफ ग्रामीणों ने माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद खंडपीठ लखनऊ में रिट याचिका दाखिल की जिस पर माननीय उच्च न्यायालय द्वारा  एक आदेश पारित करते हुए। अधिकारियो को आदेश दिया गया कि राशन दुकान आवंटन के क्रियान्वयन पर अंतरिम रोक लगा दीजाये। जब याचिका में विपक्षियों को नोटिस जारी हुआ उसके उपरांत याची के प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए।

जिला व तहसील प्रशासन को सरकारी राशन की दुकान को पुनः चयन के आदेश दिए गए और कहा गया कि ग्राम पंचायत में खुली बैठक में प्रस्ताव पारित करने का आदेश दिया गया ग्रामीणो ने बताया की राजनीतिक दबाव के कारण आदेश का अनुपालन नहीं किया जा रहा है इसी सम्बंध में एक प्रार्थना पत्र सौंपते हुए ग्रामीणों ने बताया कि इस संबंध में पहले भी कई शिकायतें हुई परंतु ग्रामीणों को न्याय नहीं मिल सका ग्रामीणों ने सिटी मजिस्ट्रेट से न्याय की गुहार लगाई है। इस मौके पर राहुल कुमार, अमित कुमार सिंह, गौरव सिंह, गंगाधर, मनफूल, ज्ञानू, शैलेंद्र सिंह, दीपक सिंह, मुनेश्वर, रामपाल, भैयालाल, राम शंकर, राम सिंह, राम विलास, विपिन कुमार, गोपाल, मनीराम, बेदराम, छत्रपाल सिंह, सहित सैकड़ों ग्रामवासी मौजूद रहे।

[स्रोत- लवकुश सिंह]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here