PM मोदी के स्वच्छता अभियान पर सवालिया निशान लगाती तारानगर की कुछ तस्वीरें

प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा चलाया गया स्वच्छ्ता अभियान आज जन आंदोलन बन चूका है और हर नेता आज इस अभियान के जरिये हुए बदलाव के बारे मे बताता रहता है। मगर हम आज आपको दिखा रहे है कि जमीनी स्तर पर ये अभियान कितने हद तक लागू हुआ हैं।Swach Bharat Abhiyan with Grameen Bharatये कुछ तस्वीरें तारानगर की हैं जिन्हें देख कर आप खुद पता कर सकते है कि धरातल पर अब तक मोदी जी के अभियान में उनके लोगो ने कितना काम किया है। यह तस्वीरे है, तारानगर के वार्ड नंबर 19 की हैं। इन तस्वीरों को देख कर आप तय कर सकते है कि इस वार्ड में सफाई को लेकर लोग कितने जागरूक है और नगरपालिका द्वारा यहा कितना प्रभावी काम किया गया है।Swach Bharat Abhiyan with Grameen Bharaजहाँ की ये तस्वीरें है वहां से 200 मीटर के दायरे में एक सरकारी विद्यालय भी आता है और शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल भी। फिर भी आज तक इस प्रकार से गदगी फैलाते हुए पानी की और किसी का ध्यान नही गया है और ना ही इस प्रकार इक्कठे होने वाले पानी से फैलने वाली बीमारियों के बारे में वार्ड पार्षद को फ़िक्र है, ना ही वार्ड वासियो को, और ना ही प्रशासन को।Swach Bharat Abhiyan with Grameen Bharaआजकल स्वच्छ भारत अभियान एक फोटो सेशन बनता जा रहा हैं। स्थनीय नेता से लेकर बड़े-बड़े नेताओ तक स्वच्छ भारत अभियान को लेकर बड़े बड़े नारे दिए गए हैं मगर वो सब टीवी और बड़ी बड़ी न्यूज़ एजेंसियों तक ही सिमित हैं। मगर इस स्वच्छ भारत अभियान कि सच्चाई कुछ और ही हैं।

[ये भी पढ़ें: सरकार की नाक तक पहुंची तारानगर में फैले कचरे की बदबू]

अगर आपके गांव में भी इस प्रकार की कोई समस्या हैं तो आप भी फिरभी न्यूज़ से जुड़ अपनी समस्या को दुनिया के सामने रख सकते हैं.

[स्रोत- विनोद रुलानिया]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here