इंसेफेलाईटिस से पीड़ित अपने दो जिगर के टुकड़े को खोने वाले शोकाकुल परिवार की मदद को उठने लगे हैं हाथ

शिवहर: जिले के पिपराही प्रखंड के अंतर्गत रतनपुर गांव में बीते सप्ताह पांच वर्षीय आयुष कुमार एवं आठ वर्षीय आरती कुमारी सगे भाई-बहन की मृत्यु मस्तिष्क ज्वर (इंसेफेलाईटिस) से पीड़ित होने के कारण हो गई। गौरतलब बात यह हैं कि मस्तिष्क ज्वर (इंसेफेलाईटिस) का यह मामला जिले का यह पहला मामला नहीं हैं। लेकिन इस तरह का हृदय विदारक पहला मामला जरूर हैं।dinesh from Ratanpur(Bihar)एक के बाद एक करके अपने दो जिगर के टुकड़े को खोने वाले रतनपुर निवासी दिनेश तिवारी अंदर से पूरी तरह टूट चुके हैं। रो-रोकर उनका और उनके परिवार का बूरा हाल हो गया हैं। उपर से परिवार की बिगड़ी हुई माली हालत दिनेश तिवारी के लिए एक बड़ी त्रासदी से कम नहीं हैं। ऐसे में पीड़ित शोकाकुल परिवार की मदद के लिए के लिए उठने वाले हाथ भी किसी वरदान से कम नहीं हैं।

ऐसे में जिले की एक समाजसेवी संस्था महावीर मित्र मंडल के सदस्यों ने शोकाकुल परिवार से मिलकर सहायता राशि प्रदान की एवं भविष्य में भी हर संभव मदद का भरोसा दिलाकर ढाढ़स बंधाया। महावीर मित्र मंडल के द्वारा किए गये इस महान कार्य के लिए लोग भूरि-भूरि प्रशंसा कर रहे हैं एवं महावीर मित्र मंडल के इस महान कार्य से प्रेरित होकर अन्य समाजिक संगठनों के द्वारा भी पीड़ित परिवार को मदद पहुंचाए जाने की खबर हैं।

[स्रोत- संजय कुमार]

3 COMMENTS

    • जी हाँ, हरी शंकर आप जरूर मदद कर सकते है…

  1. पीड़ित की सत्यापित जानकारी आपकी ई-मेल ID पर भेज दी गयी हैं. कुछ अन्य जानकारी के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें http://bit.ly/2zdrKrj

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here