नाहरगढ़ किले पर लटकती लाश का रहस्य अभी तक बरकरार, पुलिस को इन जवाबों का इंतजार

जयपुर के प्रसिद्ध नाहरगढ़ किले में लटकी मिली लाश का रहस्य अभी तक बरकरार है अभी तक पुलिस यह भी साफ नहीं कर पाई है कि यह आत्महत्या है या फिर हत्या. लाश के पास मिले संदेशों के अनुसार अभी तक यही अंदाजा लगाया जा रहा था कि युवक का कत्ल किया गया है और जिसे सांप्रदायिक रंग देने की साजिश में पद्मावती फिल्म से उस को जोड़ा गया है. मगर यह तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही साफ हो पाएगा कि सक्स की हत्या की गई है या फिर उसने आत्महत्या की है.

Nahargarh

जिस शख्स का शव मिला उसका नाम चेतन सैनिक है तथा पुलिस अपनी तरफ से पूरी जांच में लगी हुई है, मगर अभी तक इन सवालों के जवाब बरकरार हैं कत्ल किसने किया, कब किया, कैसे किया, जब कत्ल हुआ तो कोई वहां पर मौजूद था या नहीं. जिसके लिए पुलिस चेतन सैनिक के सगे-संबंधियों और जान पहचान वालों से पूछताछ कर रही है.

इन सवालों पर टिका है सारा मामला

चेतन के परिवार वालों से मिली जानकारी के अनुसार चेतन किसी भी तांत्रिक कार्यों में लिप्त नहीं था अगर घरवाले सच बोल रहे हैं तो पत्थरों पर यह क्यों लिखा मिला कि चेतन तांत्रिक मारा गया. अगर चेतन ने आत्महत्या की है तो उसने अपने आप को तांत्रिक क्यों बताया?

अगर चेतन ने आत्महत्या की है तो जाहिर सी बात है पत्थरों पर भी जो संदेश लिखें हैं या जो चेतावनी लिखी है वह चेतन ने हीं लिखी मगर चेतन के हाथों पर कोई भी कोयले के काले निशान नहीं पाए गए ?

22 से ज्यादा पत्थरों पर चेतावनी लिखने के लिए उसको कम से कम आधे घंटे से ज्यादा का समय लगा होगा क्या उस समय उसे किसी ने नहीं देखा?

अगर इतने समय तक चेतन नाहरगढ़ किले पर रहा मगर किसी को कुछ पता नहीं चला ऐसे में नाहरगढ़ किले की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं.

सवाल यह भी है कि जो लिखाई पत्थरों पर है क्या वह चेतन की है? क्या वह लिखाई चेतन की लिखाई से मिलती है?

चेतन के शरीर पर बाहरी चोट के घाव न मिलना बस उसके चेहरे पर कुछ खरोचों के निशान है.

सवाल यह भी है कि रात्रि अंधेरे में उसने पत्थरों पर कैसे लिखा और अगर लिखा भी है तो कुछ समय तो जरूर लगा होगा इस बीच उसे किसी ने क्यों नहीं देखा?

जिस तरह से रस्सी बंधी मिली उस तरह से साफ जाहिर है कि खुद इस तरह की रस्सी बांधकर लटकना नामुमकिन है.

पुलिस इस बात की हर एंगल से जांच कर रही है जिसके लिए पुलिस चेतन सैनी के करीबियों से हर प्रकार की पूछताछ कर रही है और जानने की कोशिश कर रही है कि आखिरी समय में चेतन के साथ कौन था? हालांकि यह तो पोस्टमार्टम और एसएफएल की रिपोर्ट के बाद ही साफ हो पाएगा कि चेतन ने आत्महत्या की है या चेतन की हत्या की गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here