खाने के बाद ये काम हो सकता है हानिकारक

अकसर देखा जाता है की हम अपने कामों में इतना बिजी हो जाते है की हमे अपने खाने-पीने का ठीक से दिन नहीं रख पाते हैं. जिसकी वजह से हमे अनेको प्रकार की बीमारियाँ हो जाती है जिनमे से एसिडिटी सबसे आम बात है. एसिडिटी होने की असली वजह हमारे ठीक से खाने पीने व् खाने के बाद की गई कुछ गलत आदतों की वजह से भी हो जाती हैं. जैसे खाने के बेल्ट खोल देना, गलत समय पर वाकिंग पर जाने से इसके अलावा और भी बहुत साडी आदतें हैं जो हमारे शरीर के लिए हानिकारक हो सकता हैं.

Food

खाना खाने के दौरान कुछ ऐसे चीज़ें करते है और इस बात से अनजान है तो आज हम आपको इन्ही आदतों से अवगत करने जा रहे हैं.

बेल्ट खोलना: खाना खाने के तुरंत बाद पेट को आराम देने के लिए बेल्ट खोलने की गलती ना करें.इसका डाइजेशन पर बुरा असर पड़ता है. और इंटेस्टिने भी ब्लॉक हो सकते है. खाने के आधे घंटे बाद बेल्ट खोल सकते है.

वॉक करना: खाना खाने के तुरंत बाद वॉक करने से बॉडी के ब्लड सर्कुलेशन पर असर पड़ता है. इससे डाइजेशन सही तरह से नहीं हो पता और एसिडिटी की प्रॉब्लम हो सकती है. खाना खाने के आधे घंटे बाद टहल सकते है.

नहाना: नहाते समय हमारी बॉडी ठंडी हो जाती है जिसका असर ब्लड सर्कुलेशन पर पड़ता है. इससे डाइजेशन धीमा हो जाता है. खाना ठीक से डाइजेस्ट ना होने पर एसिडिटी, गैस हो सकता है. खाना खाने के आधे घंटे बाद नहा सकते है .

स्मोकिंग: खाने के बाद पी गई एक सिगरेट 10 गुना ज़्यदा बुरा असर डालती है. इससे कैंसर की आशंका बढ़ सकती है. साथ ही हार्ट डिजीज और ब्रीदिंग प्रॉब्लम हो सकती है. खाने के कम से कम 2 घंटे तक सिगरेट न पियें.

फल खाना: खाने के तुरंत बाद फल खाने से उनका डाइजेशन सही तरह से नहीं हो पाता, जिससे उनका पूरा न्यूट्रिशन बॉडी को नहीं मिलता है. इससे एसिडिटी और इनडाइजेशन हो सकती है. खाने खाने के एक घंटे बाद फल खा सकते हैं.

चाय पीना: खाना खाने के बाद चाय पिने से प्रोटीन का डाइजेशन सही तरह से नहीं हो पाता है. इससे इनडाइजेशन की प्रॉब्लम हो सकती है. खाने के 2 घंटे बाद चाय पी सकते हैं.

सोना: खाना खाने के तुरंत बाद सोने जाने से डाइजेशन धीमा हो जाता है. खाना ठीक से डाइजेस्ट न होने के कारण हार्ट बर्न और गैस की प्रॉब्लम हो सकती हैं. खाना खाने के कम से कम 2 घंटे बाद ही सोएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here