मैच प्रतिबंधित होने से बचे विराट कोहली, वॉकी-टॉकी मामले में ICC से मिली क्लीन चिट

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली को बड़ी राहत मिली है. भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेले गए पहले टी20 मैच में विराट कोहली ने वॉकी-टॉकी इस्तेमाल करके आईसीसी के नियमों का उल्लंघन किया था, जिसकी वजह से उन्हें अगले आने वाले मैचों में प्रतिबंध किया जा सकता था. किन्तु ICC ने उन्हें इस मामले में क्लीन चिट दे दी है.अब उन्हें अगले मैच खेलने के लिए कोई भी परेशानी नहीं आएगी. Virat kohli[Image Source: TOI]1 नवंबर को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में खेले गए पहले टी20 मैच में, मैच के दौरान विराट कोहली ने वॉकी-टॉकी का इस्तेमाल किया था जो कि ICC नियमों का पालन नहीं करता. इस लिहाज से विराट कोहली के ऊपर कार्यवाही हो सकती थी. परन्तु अब ICC ने उन्हें इस मामले में क्लीन चिट दे दी है साथ ही कहा कि जो विराट कोहली ने किया उसमें कहीं भी नियमों का उल्लंघन नहीं हुआ है उन्होंने नियमों के दायरे में रहकर ही यह काम किया. जबकि उन्होंने इसके लिए इजाजत भी ली थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें खिलाड़ियों के लिए ड्रेसिंग रूम में मोबाइल फोन उपयोग करने की अनुमति नहीं होती है. जब क्रिकेट मैच हो रहा होता है तो आसपास के क्षेत्र में मेडिकल स्टाफ या अन्य स्टाफ में संपर्क करने के लिए वॉकी-टॉकी का इस्तेमाल किया जाता है. ड्रेसिंग रूम में मोबाइल फोन उपयोग करना पूर्णतया प्रतिबंध है. अगर यदि कोई खिलाड़ी इन नियमों का उल्लंघन करता है तो ICC उस खिलाड़ी पर आगे खेले जाने वाले मैचों से दूर रख सकती है.

मैच के दौरान विराट कोहली का वीडियो फुटेज सामने आया था जिसमें उनपर कयास लगाए जा रहे थे कि उन्होंने वॉकी-टॉकी का इस्तेमाल किया है किन्तु अब ICC ने उन्हें इस मामले में क्लीन चिट दे दी है. 1999 के वर्ल्ड कप के दौरान दक्षिण अफ्रीका के कप्तान हैंसी क्रोन्ए और कोच बॉब बूलमूर के बीच में एक छोटे स्पीकर के जरिए बातचीत की जा रही थी इसे भारतीय टीम के खिलाड़ी सौरव गांगुली ने देखा और तुरंत अंपायर से इसकी शिकायत कर दी थी.

इस घटना के बाद आईसीसी ने अपने नियमों में परिवर्तन किया और इसके लिए कई सारे सख्त नियम बनाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here