स्वागत कीजिये 200 के नोट का गहरे पीले रंग और सांची स्तूप की तस्वीर के साथ

25 अगस्त 2017 को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया भारतीय मुद्रा में एक नए सदस्य को जोड़ने जा रहा है। यह सदस्य है 200 रुपए का नया नोट जो आपके पास अगस्त के आखिरी सप्ताह या फिर सितंबर के पहले सप्ताह तक आ जाएगा

200 Rs

8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के बाद जारी होने वाले नए नोटों की श्रंखला में यह तीसरा नोट है जो रिजर्व बैंक द्वारा जारी किया जा रहा है। लेकिन क्या आप उन कारणों के बारे में जानते हैं जो इस नए नोट के जारी किए जाने के लिए जिम्मेदार हैं। तो आइये आपकी यह मुश्किल भी आसान कर देते हैं, और बताते हैं 200 रुपए के नए नोट के जारी किए जाने के पीछे की असली कहानी क्या है:

छोटे नोटों की समस्या:

नोटबंदी के बाद से भारतीय मानव के हाथों में केवल 2000 रुपए का और नया 500 रुपए का नोट था। इन बड़े नोटों के कारण हर गृहिणी को घर-गृहस्थी चलानी बहुत मुश्किल हो रही थी। सुबह-सुबह दूध और सब्जी लेने के लिए जाने पर कोई भी इन बड़े नोटों को आसानी से खोलने को तैयार नहीं होता था। ऐसे में हर समय बंद हो गया पुराना 100 रुपए का नोट सबको बहुत याद आता था। अब यह 200 रुपए का नोट उस परेशानी को अगर बिलकुल नहीं तो थोड़ा बहुत तो खत्म कर ही सकता है। इससे न केवल गृहिणी को सुविधा होगी बल्कि छोटे व्यापारियों को भी अपना रोज का लेन -देन करने में सुविधा हो सकती है।

[ये भी पढ़ें : हम्पी का रथ और फिरोजी रंग के साथ आएगा 50 का नया नोट]

क्या अनोखा है इस नोट में:

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा शुक्रवार को जारी किए जाने वाले 200 रुपए के नोट की दो बाते खास हैं। एक तो इस नोट का रंग गहरा पीला है और दूसरे इस नोट के पीछे सांची स्तूप की तस्वीर होगी। इसके अलावा कुछ और बातें हैं जो आपको ध्यान में रखनी है, वो इस प्रकार हैं:

  1. इस नए नोट पर बहुत ही छोटे अक्षरों में आरबीआई, भारत, इंडिया और 200 छापा गया है।
  2. सिक्यूरिटी थ्रेड हरे रंग का है जो थोड़ा टेढ़ा करने पर नीले रंग का दिखाई देगा।
  3. 200 लिखा एक वाटर मार्क भी है।
  4. स्लोगन सहित स्वच्छ भारत भारत का लोगो भी छापा गया है।
  5. देश की सभी प्रमुख भाषाओं का पैनल भी है।
  6. नोट की बायीं ओर नोट छापने का वर्ष लिखा गया है।
  7. देवनागरी में 200 शब्द लिखा गया है।
  8. दृष्टिहीनों की सुविधा के लिए इस नोट में अशोक स्तम्भ, महात्मा गांधी और H का निशान बाहर की ओर उभरा हुआ है। इसके अतिरिक्त नोट के अगले हिस्से में दोनों किनारों पर विशिष्ट निशान भी हैं।
  9. इसमें इलेक्ट्रोटाइप वाटर मार्क का निशान भी है।
  10. महात्मा गांधी के फोटो के दायें किनारे में गारंटी क्लौज , प्रोमिस क्लौज के साथ आर बी आई के गवर्नर के हस्ताक्षर और प्रतीक चिन्ह भी होगा।
  11. इस नोट का आकार 66 मिमी x 146 मिमी होगा।

भारतीय अर्थव्यवस्था में जारी किया जाने वाला 200 रुपए का यह अपनी तरह का पहला नोट है जिसे इससे पहले कभी नहीं जारी किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here