किसके सर सजेगा 14वें राष्ट्रपति का ताज , UPA की मीरा या NDA के राम

देश की सबसे बड़ी गद्दी के लिए होने वाले चुनाव का आज आखिरी दिन है। आज भारत को अपना14वा राष्ट्रपति मिलने की दिशा में बस चंद घंटे कहें या कुछ पल की देर है। बस देखना यह दिलचस्प होगा कि राष्ट्रपति की इस दौड़ में दलित समाज का चेहरा एक बार भर महामना की गद्दी पर बैठेंगे या फिर यू पी ए का शांत और सादगी की मिसाल लोकसभा स्पीकर रही सुमित्रा महाजन।
http://www.phirbhi.in/wp-content/uploads/2017/07/ramnath-kovind-vs-meira-kumar.jpg

आपको बता दें की आज शाम 5बजे तक राष्ट्रपति चुनाव के नतीजे सबके सामने आ जाएंगे। जिसमें यह साफ हो जाएगा कि देश की तीनों सेनाओं का नेतृत्व कौन संभालेगा।

[ये भी पढ़ें : दलितो के अधिकारो की लड़ाई या फिर महज एक सियासी खेल]

17 जुलाई को हुए सभी राज्यों के वोट के बैलेट बॉक्स संसद पहले ही पहुंच चुके हैं और संसद में कड़ी सुरक्षा में उसे रखा गया है। राष्ट्रपति चुनाव के लिए कुल 32 जगहों पर मतदान हुआ था। इनमें 29 राज्य, दिल्ली और पुडुचेरी समेत दो केंद्र शासित प्रदेश और संसद भवन शामिल है जहां पर राज्यसभा और लोकसभा के सांसदों ने मतदान किया।

[ये भी पढ़ें : वेंकैया नायडू ने प्रधान मंत्री मोदी और अन्य की मौजूदगी में किया उपराष्ट्रपति पद के लिए नामांकन]

देश के सबसे बड़े मुखिया के चुनाव में 99 प्रतिशत से भी ज्यादा का मतदान हुआ था और संख्या के हिसाब से NDA के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का जीतना तय माना जा रहा है जिनका मुकाबला विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार से है।भारत के अगले राष्ट्रपति के लिए 4083 विधायकों ने और 768 सांसदों ने वोट डाला था ।राष्ट्रपति के चुनाव में एक सांसद के वोट का मूल्य 708 होता है जबकि विधायकों के वोट का मूल्य उनके राज्य पर निर्भर करता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.