क्यों जरूरी हैंं कार में एयरबैग

सुरक्षा की दृष्टि से एयरबैग कार सबसे महत्वपूर्ण फीचर्स में आ चुके हैं। अधिकांश कारों में एयरबैग की सुविधा दी जा रही है। एयरबैग्स एक्सीडेंट होने की कंडीशन में ड्राइवर की जान बचाने में सहायता करते हैं। एयरबैग्स की उपयोगिता को देखते हुए सरकार भी इस दिशा में नए नए कदम उठा रही है। एयरबैग्स को लेकर लोग भी काफी सजग हो रहे हैं। यहां हम एयरबैग की उपयोगिता और फायदों के बारे में चर्चा करेंगे।Airbag

एयर बैग कैसे काम करता है

कार का एक्सीडेंट होने पर ड्राइवर और साइड सीट पर बैठे व्यक्ति की मौत होने की आशंका ज्यादा होती है। एयरबैग्स काफी हद तक बड़े हादसों को टालते हैंं। भारत सरकार ने भी स्टैंडर्ड फीचर के रूप में एयरबैग्स को शामिल किया है। कार में टक्कर लगने से एक सेकिंड से पहले ही एयरबैग्स खुल जाते हैं। गाड़ी में सेंसर की सुविधा होने से एक्सीडेंट की स्थिति में सेंसर एक्टिव हो जाता है जोकि एयर बैग्स को खोलने की कमांड देता है, स्टेरिंग के नीचे मौजूद इन्फ्लेटर कमांड मिलने से एक्टिव हो जाते हैं, इन्फ्लेटर  सोडियम अजााइड के साथ मिलकर नाइट्रोजन गैस पैदा करता है, जो कि एयरबैग में भर जाती है, जिससे एयरबैग फूूल जाते हैं।

[ये भी पढ़ें : कीमती स्मार्टफोन को बारिश से बचाने के तरीके]

जब गाड़ी का एक्सीडेंट होता है तो आपका शरीर एयरबैैग्स से टकराता है जिससे जान बच जाती है। ड्राइविंग करते समय सभी लोगों को सीट बेल्ट बांधने की सलाह  इसीलिए दी जाती है जिससे एक्सीडेंट के समय आपका शरीर झटके खाकर आगे टकराने से बच सके।

एयरबैग्स एक्पायर भी होते हैंं

भारत सरकार ने एक्सीडेंट से होने वाली मौतों के आंकड़ों को देखते हुए एयरबैग और एबीएस मैंडटरी तैयार कर दिया है। 2017 से सभी कारों में एयरबैग को स्टैंडर्ड फीचर्स  मानकर कार के सभी वेरियंट में लाने को कहा है। एयरबैग की एक्सपायरी डेट भी होती है। हालांकि हेयरबैग्स के फंक्शन में जिन पुर्जों का इस्तेमाल किया जाता है वह काफी मजबूत होते हैं, परंतु एयरबैग्स फीचर देते समय कई बार कार निर्माता उनकी रिप्लेसमेंट सीमा भी तय कर देते हैं, जिन कारों में एयरबैग होते हैं वह SRS डायग्नोस्टिक सिस्टम से लैस होते हैं, इन सिस्टम के माध्यम से पता चलता है कि कार में लगे एयरबैग्स ठीक प्रकार से काम कर रहे हैं या नहीं।

[ये भी पढ़ें : वाट्सऐप पर फेक न्यूज़ कैसे पहचानें]

एयरबैग्स की स्थिति को जानने के लिए कार को स्टार्ट करते समय ध्यान दीजिए अगर आपकी कार के मीटर में लगे SRS इंडीकेटर्स कुछ सेकंड के लिए जल जाते हैं और कुछ सेकंड के बाद ऑफ नहीं होते तो समझ लीजिए आपकी कार के एयरबैग्स में कुछ समस्या है। ध्यान रखें कार का एयरबैग खुलने पर किसी ऑथराइज्ड डीलर या वर्क शॉप में ही जाकर ठीक कराएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here