Rajinikanth Birthday: कारपेंटर, कुली और बस कंडक्टर से महानायक बनने का अद्भुत सफर

12 दिसंबर 2017 को सुपरस्टार रजनीकांत 67 साल के हो चुके हैं. अपनी एक्टिंग से मशहूर और एक्शन के लिए जाने जाने वाले रजनीकांत का जन्म 12 दिसंबर 1950 को बेंगलुरु में हुआ था. रजनीकांत के इस महानायक बनने तक के सफर के पीछे बहुत सारी बातें छुपी हैं यूं ही वह सुपरस्टार रजनीकांत नहीं बन गए यूं ही उन्हें थलाइवा कहा जाने लगा. Rajnikant

रजनीकांत के माता पिता ने उनका नाम शिवाजी राव गायकवाड़ रखा था मगर फिल्मों में उनका सफर रजनीकांत के नाम से शुरु हुआ उनके पिता एक हवलदार थे. मां के गुजर जाने के बाद अपने चार भाई बहनों में सबसे छोटे रजनीकांत को घर की जिम्मेदारियों का कुछ एहसास हुआ और उन्होंने परिवार को सहारा देने के लिए कुली का काम करना शुरु कर दिया.

उनकी मेहनत और लगन को देखते हुए बेंगलुरू परिवहन सेवा ने उन्हें एक बस कंडक्टर की नौकरी दे दी. एक्टिंग में रुचि रखने वाले रजनीकांत ने कंडक्टर के साथ-साथ थिएटर भी जारी रखा और एक्टिंग स्कूल में भी एडमिशन लिया धीरे-धीरे उनकी कला उभरकर आने लगी और फिल्मों में दिलचस्पी और अपनी एक्टिंग के जोहर के कारण उन्हें 1973 में मद्रास फिल्म इंडस्ट्री से एक्टिंग का डिप्लोमा प्राप्त हुआ.

रजनीकांत को सबसे पहले एक तमिल फिल्म ‘अपूर्वा रागंगल’ में एक छोटा सा रोल मिला यह फिल्म 1975 में रिलीज हुई थी. इस फिल्म में उन्हें खलनायक का रोल मिला था मगर उनके इस छोटे से रोल की इतनी तारीफ हुई कि उन्हें धीरे-धीरे ज्यादा काम मिलने लगे और इस फिल्म को भी राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया था.

रजनीकांत को 1975 में ही पहला हीरो का रोल मिला और तेलुगू फिल्म का नाम ‘छिलाकाम्मा चेप्पिनडी’ था. पहली बार उन्हें इस फिल्म में रोल मिला और उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा इसके बाद एक बस कंडक्टर की नौकरी करने वाला शख्स रजनीकांत बन गया. जिसकी फिल्में सिनेमा जगत में आग लगाए रखती थी और आज भी उनका यह जलवा बरकरार है अपनी आने वाली फिल्म 2.0 को लेकर वह काफी सुर्खियों में है और यह अब तक की सबसे महंगी फिल्म मानी जा रही है इस फिल्म में लगभग 450 करोड रुपए खर्च किए गए.

रजनीकांत बॉलीवुड में भी अपना अभिनय दिखा चुके हैं इनमें ‘मेरी अदालत’, ‘जान जॉनी जनार्दन’, ‘भगवान दादा’, ‘दोस्ती दुश्मनी’, ‘इंसाफ कौन करेगा’, ‘असली नकली’, ‘हम’, ‘खून का कर्ज’, ‘क्रांतिकारी’, ‘अंधा कानून’, ‘चालबाज’, ‘इंसानियत का देवता’ आदि शामिल हैं.

फिरभी न्यूज़ भी सुपरस्टार रजनीकांत को उनके इस अभूतपूर्व योगदानों के लिए उनका धन्यवाद करता है और उन को उनके जन्मदिन पर बहुत-बहुत बधाई भी देता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here