योगी सरकार का एजेंडा महिला सुरक्षा से समझौता नहीं

Yogi government agenda does not compromise women's safety

सीएम बनने के बाद पहली बार गोरखपुर दौरे पर पहुंचे. दो दिनों के गोरखपुर दौरे के पहले दिन शनिवार को योगी का अभिनंदन किया गया. इस मौके पर उन्होंने ये साफ कर दिया कि उनकी सरकार का एजेंडा क्या होगा.

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार गोरखपुर पहुंचे आदित्यनाथ योगी ने खुद के अभिनंदन को यूपी की 22 करोड़ जनता के नाम कर दिया. एमपी कॉलेज ग्राउंड पर अपने संबोधन में बार-बार पीएम मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को साधुवाद देते हुए उन्होंने अपनी सरकार का एजेंडा सामने रखा.

बतौर सीएम आदित्यनाथ ने ये भरोसा दिलाया है कि उनकी सरकार में कोई खुद को उपेक्षित महसूस नहीं करेगा. सरकारी योजनाओं का फायदा अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाया जाएगा. सीएम ने ये भी साफ कर दिया कि मनचलों पर नकेल कसने के लिए बनाए गए एंटी रोमियो स्क्वायड का अभियान चलता रहेगा. इस भरोसे के साथ कि बेकसूरों पर इसकी आंच नहीं आएगी. प्रदेश में चल रहे अवैध बूचड़खानों पर नकेल कसने का मजबूत इरादा भी सीएम आदित्यनाथ ने जताया. सीएम ने ये भी साफ कर दिया कि उनकी सरकार भ्रष्टाचार को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी.

आदित्यनाथ ने प्रदेश की सड़कों को जल्द ही दुरुस्त कराने का भरोसा भी दिया है. इन सबके अलावा सीएम ने मान सरोवर यात्रा को लेकर भी एक बड़ा ऐलान किया. कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए 1 लाख के अनुदान का एलान कर दिया.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने पूरी तरफ से विकास और कानून व्यवस्था की तरफ ध्यान देकर अपना एक्शन प्लान कर रहें मगर जहां एक तरफ मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी बीजेपी कार्यकर्ताओं से संयम बरतने को कह रहे हैं तो दूसरी तरप उनकी पार्टी के विधायक की अजीबोगरी और भड़काऊ बयान देकर विवाद खड़े कर रहे हैं. मंत्री सुरेश खन्ना की मौजूदगी में बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने कुछ लोगों के हाथ पैर तोड़ डालने की धमकी दे डाली.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here