सुप्रीम कोर्ट का आदेश, दिवाली पर दिल्ली-NCR में पटाखे नहीं बिकेंगे

दीवाली के मौके पर दिल्ली और एनसीआर की सीमा में रहने वाले लोगों के लिए एक बुरी खबर है. इस बार आप दिवाली के मौके पर पटाखे नहीं फोड़ पाएंगे. क्योंकि भारत के सर्वोच्च न्यायालय सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है दिल्ली-एनसीआर में दिवाली के मौके पर पटाखे नहीं बिकेंगे. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने कहा 1 नवंबर 2017 के बाद यह बैन हट जाएगा.Diwali Bombदिल्ली में पटाखे की बिक्री पर बैन लगाने के लिए याचिका दायर करने वालों ने सुप्रीम कोर्ट से विनती की थी और प्रदूषण का हवाला देते हुए पटाखों पर पूरी तरह बैन लगाने की मांग की थी. पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने 11 नवंबर को दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में पटाखों की बिक्री पर बैन लगाया था. इसके साथ सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को भी आदेश दिया था पटाखे बिक्री के लिए नए लाइसेंस ना दिए जाएं जबकि जारी लाइसेंस को भी निलंबित कर दिया जाए.

सुप्रीम कोर्ट का कहना है दीवाली के मौके पर पटाखों पर बैन लगाने का मेन मकसद है देखना चाहते हैं प्रदूषण में इस बार स्तर कितना नीचे जाता है

हालांकि, सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला दिल्ली और एनसीआर में पटाखे ना बिकने का 1 नवंबर 2017 तक प्रभावी रहेगा इसके बाद दिल्ली-एनसीआर में पटाखे बिक सकेंगे. किन्तु दिवाली के मौके पर पटाखे नहीं बिकेंगे ऐसे में लोगों को दिवाली का मजा नहीं आएगा क्योंकि दिवाली का मजा तो पटाखे पटकाने में ही आता है.

[ये भी पढ़ें: मेट्रो किराया बढ़ोतरी के विरोध में NSUI सदस्यों ने हंगामा किया

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में पटाखों की बिक्री पर रोक लगाते हुए कुछ शर्ते रखी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने कहा दिल्ली एनसीआर में पटाखों की बिक्री के लिए पुलिस की निगरानी में विक्रेताओं को लाइसेंस दिए जाएं, साथ ही पुलिस को यह निर्देश भी दिया अस्पताल, कोर्ट, धार्मिक स्थल, स्कूल आदि के दायरों से 100 मीटर दूर ही पटाखे जलाने दिए जाएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here